AI पुलिस की किस तरह से सहायता कर रही है और तमाम लोगों की इसपर क्या राय है?

[rank_math_breadcrumb]

फ्रांस में अगले साल होने वाले ओलंपिक गेम्स में सुरक्षा के लिए अधिकारी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर सकेंगे। यानी हजारों CCTV कैमरा में नजर आने वाली किसी भी गड़बड़ी का पता लगाने के लिए कंप्यूटर्स का इस्तेमाल किया जाएगा। लेकिन सुरक्षा के लिए आर्टिफीसियल इन्टेलिजेन्स तकनीक के इस्तेमाल पर सवाल उठ रहे हैं।

How is AI helping the police?
How is AI helping the police?

AI पुलिस की किस तरह से सहायता कर रही है?

एक व्यस्त पुलिस कंट्रोल रूम में जहां आर्टिफीसियल इन्टेलिजेन्स के जरिए सुरक्षा का जिम्मा संभालना जा रहा है। एक पूरे उपनगरीय इलाके में निगरानी के लिए 250 कैमरे लगे हुए है जो एक पुलिस की छोटी सी टीम के लिए काफी ज्यादा है। वहां मौजूद अधिकारी ने कहा, “हमारे पास एक नई डिवाइस है जो कुछ होने पर उन्हें सूचित करती है। आर्टिफीसियल इंटेलीजेंस खुद पता करके हमें बताता है कि यहाँ ज्यादा लोग हैं और यह नॉर्मल नहीं है। इसलिए इस कैमरे पर ध्यान देने के लिए ai बताता है।”

AI surveillance
AI surveillance

ऑपरेटर ने कुछ पैरामीटर्स सेट कर रखे हैं, जैसे कि आग या जमीन पर कोई व्यक्ति या लावारिस पड़ा कोई बैग। हजारों तस्वीरों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को किसी लावारिस पड़े बैग के बारे में जैसे ही पता चलेगा, पुलिस को इसका अलर्ट मिलेगा। बिलकुल वैसा ही है जैसा की फ्रांस की सरकार अगले साल होने वाले ओलंपिक गेम्स के दौरान सुरक्षा के लिए चाहती है। मसलन ओपनिंग सेरेमनी में 5,00,000 दर्शक होंगे जो ai टेक्नोलॉजी के जरिए सुरक्षा के लिए चुनौतीपूर्ण होगा।

AI helping the police in surveillance
AI helping the police in surveillance

लोगों की ai की इस टेक्नोलॉजी पर क्या राय है?

लेकिन सब इससे खुश नहीं है जो सुरक्षा के मामले में ai टेक्नोलॉजी के मु्द्दे पर कोर्ट तक जाने के लिए तैयार है। उनके मुताबिक, “उन्हें इसके पॉलिटिकल प्रोजेक्ट्स भी देखने चाहिए। स्टेट और पुलिस ये तय करेंगे कि क्या नॉर्मल है और क्या नॉर्मल नहीं है। हर किसी की कुछ ना कुछ राजनीतिक पृष्ठभूमि हो सकती है। ये जानते हुए आप स्टेट के हाथों में सर्विलांस टूल दे रहे हैं। ये न्यूट्रल नहीं है, इसका दुरुपयोग हो सकता है।”

पिछले साल लिवरपूल और रियाल मेड्रिड के बीच चैंपियंस लीग का फाइनल आपको याद होगा जो एक केस स्टडी है कि उस हालात में आई टेक्नोलॉजी से मदद कैसे मिल सकती है? मसलन, अजीब व्यवहार या लड़ाई की तैयारी के शुरुआती अलर्ट कंप्यूटर के जरिए पुलिस तक पहुँच सकते हैं, जिससे जरूरत के मुताबिक हस्तक्षेप भी कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें!

AI खेती में किस तरह से सहायता कर रही है, AI Farming benefits in hindi

डेवलपर्स की राय

A man giving bite

जहाँ तक नागरिक अधिकारों की बात है, डेवलपर्स का कहना है कि उन्हें इसकी सीमा मालूम है। डेवलपर्स का कहना है कि, “मैं इस टेक्नोलॉजी को तवज्जो देता हूँ। फ़्रेंच कंपनियों ने कानूनों और नैतिकता को ध्यान में रख कर इसे बनाया है। ये चीन या अमेरिकी तकनीक जैसा नहीं है और वो कहते भी हैं कि हम फ़्रेंच कंपनी नहीं हैं और हम ऐसा नहीं चाहते हैं।”

पहले बहस थी सड़कों पर कैमरों को लेकर और अब बहस इस बात पर है कि कंप्यूटर्स की उन कैमरों पर नजर है। टेक्नोलॉजी में दिन प्रतिदिन बदलाव आता जा रहा है और उसके साथ-साथ है कई और चीजें भी सामने आ रही है जिसपर बहस का मुद्दा बरकरार है।

1 thought on “AI पुलिस की किस तरह से सहायता कर रही है और तमाम लोगों की इसपर क्या राय है?”

  1. Pingback: क्या कानून व्यवस्था में भी ai का इस्तेमाल हो रहा है?, AI in judicial system in hindi - Aapka Ai

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top